WS_ACR_8_Mahanadi
Erosion_Priority_TN_RRS
Banner_RRS
UK_Erosion_Texture
विस्तृत मृदा सर्वेक्षण - स्थिति
मापक: 1:10,000 (वर्तमान में)
सर्वेक्षण अवधि: 1958 से
अध्ययन क्षेत्र:
नदियों के जलग्रहण एवं वर्षा-पोषित क्षेत्र की प्राथमिकताएं
सर्वेक्षित क्षेत्र: 25.07 मिलियन हे0 (मई 2022 तक)
मृदा संसाधन मानचित्रण - स्थिति
मापक: 1:50,000
सर्वेक्षण अवधि: 2003-2016
आवृत जिलों की संख्या: 265
अध्ययन क्षेत्र: जिला 
तीव्र प्राथमिक सर्वेक्षण
मापक: 1:50,000
सर्वेक्षण अवधि: 1974-2012
अध्ययन क्षेत्र:
नदी का जलग्रहण क्षेत्र (कैचमेंट)
सर्वेक्षित क्षेत्र: 262.60 मिलियन हे0  
भूमि क्षरण मानचित्रण
मापक: 1:50,000
सर्वेक्षण अवधि: 1992-2007
आवृत जिलों की संख्या: 65
 
वीडियो: भारत का डिजिटल माइक्रो वाटरशेड एटलस

भारतीय मृदा एवं भू-उपयोग सर्वेक्षण (SLUSI) एकीकृत पोषक प्रबंधन (INM) प्रभाग, कृषि एवं किसान कल्याण विभाग, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन है। संगठन का अधिदेश प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन के लिए वाटरशेड आधारित मृदा एवं जल संरक्षण योजना के लिए उपयोगकर्ता विभागों को मृदा एवं भूमि की विशेषताओं पर विस्तृत वैज्ञानिक डेटाबेस प्रदान करना है।

 भारत का डिजिटल माइक्रो वाटरशेड एटलस
    प्रयोजन:
    विशिष्ट स्थानिक सीमा एवं अद्वितीय राष्ट्रीय कोड के साथ देश के प्रत्येक माइक्रो वाटरशेड की पहचान एवं अभिज्ञान करना
    मापक:1:50,000 
लिंक